Let it Wag

Let it Wag Application by Yash Sheth

क्या है “Let it Wag”?

Let it Wag एक application है जिसे आप अपने मोबाइल फ़ोन के Play Store में जा कर डाउनलोड कर सकते हैं|

इसे एक इंजिनियर ने बनाया है और उनका नाम है YASH SETH, ये मुंबई के रहने वाले हैं|

Yash शुरू से ही नौकरी नहीं करना चाहते थे इसके बजाय वो खुद का कुछ करना चाहते थे और ऐसा किया भी उन्होंने अपनी पढाई पूरी  करने के बाद उन्होंने 2014 में अपना एक start up शुरू किया लेकिन किसी कारण वह चल ना सका|

कैसे एक कुत्ते ने जिन्दगी बदली ?

पहला काम न चलने के कारण उन्होंने अब दूसरा idea सोचा और वो था मदद करने का| Yash को जानवरों से ज्यादा ही प्यार है और खासकर कुत्तों से, उनका कहना ये भी है कि वे आधा दर्ज़न से ज्यादा कुत्ते पाल चुके है अपने दोस्त के साथ|

एक दिन यश अपने घर में ही थे और उन्होंने एक कुत्ते को बहुत तेज चिल्लाते हुए देखा और फिर खिड़की से झांकते हुए नीचे देखा तो कुत्ता बहुत तेज दर्द से तड़प रहा था,

ये देख वो नीचे आये और उन्होंने नजदीकी पशु चिकित्सक को फ़ोन किआ पर कोई फायदा नहीं हुआ उसके बाद उन्होंने एक Ambulance को फ़ोन किया

पर उसने जावाब की आ तो जायेंगे पर कोई निश्चित समय नहीं है आने का फिर कुछ देर बाद ही उन्होंने एक अपने ही तरह के लड़के की मदद से एक paid ambulance को बुलाया और 800 Rs का खर्चा भी दिया|

” इस घटना के बाद उन्हें समझ मई आ गया की कई और लोग भी हैं जो जानवरों की मदद करना चाहते हैं पर उन्हें नहीं पता की करनी कैसे है” ज्यादातर लोग फेसबुक का use करते हैं ऐसी घटनाओं को लोगों तक पहुँचाने  के लिए, पर फिर भी सब लोगों तक ये बात नहीं पहुँच पाती|

 

फिर से कैसे start किया?

एक कुत्ते की घटना ने उनके अन्दर एक नया idea लाया और वह था एक mobile application बनाने का|

एक engineer होने के नाते उनके लिए यह application बनान ज्यादा कठिन नहीं था न ही उनके घर वालों को कोई परेशानी थी फिर उन्होंने एक साल के अन्दर अपनी म्हणत से एक app बनाया जिका नाम “Let it Wag” रखा|

Application की खास बात क्या है?

इस application से किसी भी दुर्घटना की जानकारी सभी पशु – पक्षी प्रेमियों तक एक साथ एक समय पर पहुंचाई जा सकती है और वो मदद भी कर सकते हैं और यहाँ गैर सरकारी, पशु चिकित्सक और बचावकर्ता की जानकारी भी उपलब्ध है|

इस app की मदद से हजारों से ज्यादा पशुओं की मदद की जा चुकी है और कुछ पक्षी भी शामिल हैं| इस app की मदद से आप जानवर या पक्षियों को गोद भी ले सकते हैं और तो और कुछ लोग ऐसा कर भी चुके हैं|

 

yash se

 

ऐसी थी YASH और Let it Wag की कहानी, अगर आपको अच्छी लगी हो तो आगे शेयर करें और सब्सक्राइब करें|

 

 

आगे पढ़ें-

कर्जा होते हुए भी वीरेन्द्र कुमार ने क्यों छोड़ दी MNC कंपनी की नौकरी?

 

 

2 thoughts on “Let it Wag Application by Yash Sheth”

  1. Pingback: Apari Krishna Rao spends his pension to decorum bad condition of parks

  2. Pingback: Apari Krishna Rao spends his pension to decorum bad condition of parks

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *